kumar vishwas

The Sordid Tale of Kumar Vishwas and his Illicit Affair

Aam Aadmi Party’s main leader Kumar Vishwas’s illicit affair has been in discussion all over the place.  When the news broke out there was a lot of face saving by Aam Aadmi Party as well as by the loud-mouth Kumar Vishwas.

The Aam Aadmi Party (AAP) on Monday once again made headlines for the wrong reasons following allegations that senior party leader Kumar Vishwas had an affair with a volunteer in the run-up to the 2014 Lok Sabha elections.

But what is the truth?  Although a lot of people have weighed in with their comments, wit and accusations, we want to discuss what one twitter user – @LutyensInsider – who is a journalist and writes anonymously says about this whole episode.  His tweets are revealing and shocking at the same time.

The Sordid Tale of Kumar Vishwas and his Illicit Affair #kumarvishwas Click To Tweet

Let’s first start with the denial that these guys have been throwing around – that they don’t know the lady in question.  First, Lutyens Insider dispels that.

Now, the tale of intrigue – whodunnit, why and how.  Enjoy.

So someone within the AAP party is targeting Kumar Vishwas.  But will he be dumped as Yogendra Yadav and Prashant Bhushan.  Why?  Is it love, respect or something else?

Then he goes ahead and shares how terrible intrigue is being worked out within the party.

Then Lutyens Insider shares a letter from a journalist friend of his which details out the whole truth about the entire affair.

Here is the letter in Hindi he received.

 

 

अमेठी में लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान कुमार विश्वास को आप की एक महिला कार्यकर्ता के साथ आपत्तिजनक स्थिति में विश्वास की पत्नी ने देखा था। तब खूब हंगामा हुआ और विश्वास की पत्नी ने केजरीवाल तक बात पहुंचा दी।

केजरीवाल ने भरोसा दिलाया कि अब से ऐसा कुछ नहीं होगा और पार्टी में सभी को सतर्क रहने कहा गया। विश्वास की पत्नी को कहा गया कि अब वो महिला कभी भी विश्वास के इर्द गिर्द नजर नही आएगी। विश्वास थोड़ा नाड़े का ढीला है, इसलिए सब लोगों ने बात को वहीं दबा देने का फैसला किया।

बाद में यही बात पार्टी के अंदर किसी ने ई-मेल करके भी उठाई (जो कि पिछले महीने जी-न्यूज के हाथ लग गई)। पर क्यूंकि केजरीवाल ने कुमार विश्वास की पत्नी को पहले ही भरोसा दिलवाया था, उस ई-मेल पे कोई कार्यवाही नहीं हुई। ये सारी बातें पिछले साल की हैं।

इस बीच जब दिल्ली में दोबारा विधानसभा चुनाव हुए, तो कुमार विश्वास की पत्नी ने उस महिला को फिर से एक बार विश्वास के साथ देखा। हालांकि इस बार दोनो पूरे कपड़ों में थे और जनता के बीच थे। लेकिन विश्वास की पत्नी को बहुत गुस्सा आया। रात को दोनो में लड़ाई भी हुई। तब विश्वास ने बोला कि वो लड़की ही पीछे पड़ी है और वो अब उससे कोई संबंध नहीं रख रहा।

विश्वास की पत्नी फिर भी काफी गुस्से में रही, और उसने उस लड़की को सबक सिखाने की बात सोची। इसी के अंतर्गत उसने आप के कुछ वालंटियर्स को उस लड़की की तस्वीरें दे कर उसे सोशल मीडिया में बदनाम करने को कहा। वालंटियर्स ने ऐसा किया, और फिर ये तस्वीरें भाजपा के कुछ लोगों के हाथ भी लग गई। तस्वीरें सोशल मीडिया पे फैल गई।

बात उस महिला कार्यकर्ता के पति तक पहुंच गई, और उसने इससे सारे रिश्ते तोड़ने की बात की। महिला कार्यकर्ता ने अपने पति को समझाया कि ये सब झूठ है, और वो कुमार विश्वास से सच्चाई बताने कहेगी। यही फरियाद लेकर वो महिला कार्यकर्ता विश्वास के पास गई।

विश्वास को नहीं मालूम था कि ये सारा करा-कराया उसकी पत्नी का है। उसने पहले तो मीडिया में सफाई की बात बोल दी, पर जल्द ही उसकी पत्नी ने उसे चेताया कि अगर वो उस लड़की के साथ मीडिया के सामने आएगा, तो वो उसे छोड़ के चली जाएगी।

विश्वास ने इसलिए लड़की का साथ नहीं देने का फैसला किया क्योंकि उसकी बीवी के छोड़ के जाने से उसकी बहुत बदनामी होती। इसके अलावा अगर पुलिस सोशल मीडिया पे फैलाई गई तस्वीरों की जांच करती तो नाम विश्वास की पत्नी का आ सकता था। इससे और भी बदनामी होती।

इसलिए विश्वास ने उस लड़की को सब भूल जाने की सलाह दी कि ऐसा तो राजनीति में होता रहता है। लेकिन उस महिला कार्यकर्ता की जिन्दगी बरबाद हो गई। उसका पति उससे अलग रहने लगा था और विश्वास भी साथ नहीं दे रहा था। आखिर में उसने ये बाप मीडिया और महिला आयोग के सामने रखने की ठानी।

 

About admin

Check Also

BJP_31_8_2013_N

Why are Naxals and Anti-Nationals joining AAP while RAW/Army Chief and Distinguished Security officials join BJP?

More and more intelligence officers who have retired in the recent times are joining BJP. ...

Google+
%d bloggers like this:
Get Daily bytes from Indian Politics from 7RCR.
Subscribe Now

Your information will not be shared with anyone